Uncategorized

भाजपा शराबबंदी की पक्षधर है तो पूरे देश मे एक साथ लागू कराये:कांग्रेस

62views
Share Now

रायपुर:। प्रदेश कांग्रेस के वरिष्ठ प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि पूर्व रमन सरकार ने 138 साल पुरानी आबकारी नीति को बदलकर शराब का सरकारीकरण किया तब भाजपा की नेत्रियां मौन क्यों थी? रमन सरकार के दौरान गाँवो में विद्यालय बंद कर मदिरालय खोला गया था। गांवो के राशन दुकानों में राशन नही पहुँचता था लेकिन रमन की सरकारी शराब दुकान शराब की पेटियों से भरी रहती थी।शराब के गोरखधंधे में भाजपा के नेता कोचियागिरी करते थे। रमन सरकार के दौरान होटलों ढाबो हाइवे के किनारे अवैध शराब बेरोकटोक बिकता था, जिसे रमन सरकार का संरक्षण था। तत्कालीन गृहमंत्री ननकी राम कंवर ने अवैध शराब पकड़ने गृहमंत्री स्काड बनाया था जिसे रमन सिंह ने दबाव पूर्वक बन्द करवाकर अवैध शराब बेचने वाले माफियाओं को संरक्षण दिया था।
प्रदेश कांग्रेस के वरिष्ठ प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि शराब बंदी पर घड़ियाली आंसू बहाने वाली भाजपा नेत्रियों को प्रदेश की जनता को बताना चाहिए कि जब राज्य सरकार ने शराब बंदी के लिए कमेटी का गठन किया तो भाजपा के विधायक उस कमेटी में शामिल क्यों नहीं हुये? भाजपा शराबबंदी के लिए ईमानदारी से बात कर रही है तो केंद्र में उनकी सरकार है पूरे देश में शराबबंदी, नशाबंदी लागू क्यों नहीं करती है?
प्रदेश कांग्रेस के वरिष्ठ प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि राज्य सरकार के द्वारा शराब बंदी के लिए तीन कमेटीया बनाई गई है राजनीतिक सामाजिक और प्रशासनिक इन कमेटियों का रिपोर्ट बता रही है की प्रदेश में नोटबंदी की तरह शराबबंदी करने से जनहानि होगी। प्रदेश में 100 से अधिक शराब दुकान बंद किया जा चुका है शराब तस्करी करने वाले लोगों के गिरफ्तारी हुई है भाजपा के कई नेता शराब तस्करी करते पकड़े गए हैं। रमन सरकार के दौरान छत्तीसगढ़ में प्रति व्यक्ति शराब की खपत के मामले में गोवा के बाद देश में दूसरे नंबर पर था आज 18वां नंबर पर है। शराब बंदी के लिए गठित कमेटियों के सिफारिश पर जन जागरूकता के माध्यम से शराब बंदी की दिशा में काम करना चाहिए।
प्रदेश कांग्रेस के वरिष्ठ प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि लॉकडाउन के दौरान कई ऐसी घटनाएं हुई जब शराब नहीं मिलने के चलते लोगों ने तारपीन,या अन्य पदार्थों को पीकर अपने जान दी है और यही सबसे बड़ी चिंता राज्य सरकार की है। छत्तीसगढ़ जो कई राज्यों से घिरा हुआ है यदि छत्तीसगढ़ में शराब बंदी होती है तो आजू-बाजू के राज्यों से शराब की तस्करी शुरू हो जाएगी मादक पदार्थों की अवैध बिक्री शुरू हो जाएगी जो जान माल के लिए खतरा है। कांग्रेस सरकार शराबबंदी को नोटबंदी के समान त्रासदी नहीं बनाना चाहती है।
प्रदेश कांग्रेस के वरिष्ठ प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि भाजपा शासित राज्यों में मादक पदार्थों की बेरोकटोक बिक्री हो रही है प्रधानमंत्री का गृह राज्य गुजरात में विदेश से ड्रग्स पहुंच रहा हैं हजारों करोड़ों का ड्रग्स पकड़ जा चुका है। मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश, हरियाणा सहित भाजपा शासित राज्यों में अवैध शराब और गांजा की जखीरा पकड़ा जाता है नशीली दवाइयां मिलती है। मध्य प्रदेश में महिलाओं के लिए शराब की दुकान खोली जा रही है घरों में शराब बियर रखने के लिए लाइसेंस दिया जा रहा है भाजपा ने आंध्र प्रदेश में चुनाव जीतने पर सस्ते दर पर शराब उपलब्ध कराने का वादा किया है। किस मुंह से बीजेपी छत्तीसगढ़ में शराब बंदी पर सवाल पूछ रही है जब भाजपा की नीति में शराब बेचना है? भाजपा नेताओं में दम है शराब बंदी की पक्षधर हैं तो पूरे देश में नोटबंदी की तरह एक दिन में शराब बंदी कराये कांग्रेस सरकार नशाबंदी की दिशा में आगे बढ़ रही है छत्तीसगढ़ में रमन सरकार के दौरान खोले गए हुक्का बार को बंद किया गया है अवैध नशीली के कारोबारी पर कड़ी कार्यवाही की गई है।

 

Share Now

Leave a Response