प्रदेश

सूची लीक होने के बाद भाजपाई एक दूसरे के कपड़े फाड़ रहे- कांग्रेस

75views
Share Now

रायपुर:। प्रत्याशी की सूची लीक होने के बाद भाजपा में मचे अंर्तकलह और बवाल पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुये प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग अध्यक्ष सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि सूत न कपास जुलाहों में लठ्म लठ्ठा की स्थिति भाजपा में देखने मिल रही है। भाजपा की पहली अधिकृत सूची जारी होने के बाद सभी 21 स्थानों पर घोषित प्रत्याशियों के खिलाफ बगावती तेवर भाजपा के कार्यकताओं ने दिखाया, घोषित प्रत्याशियों के विरोध में धरना आंदोलन प्रदर्शन तक हुआ। अब भाजपा की दूसरी सूची जारी हुई है जिसका कि अभी तक ंभाजपा की तरफ से अधिकृत खंडन नही आया है। इस सूची के बाद तो भाजपा के सारे अनुशासन के दावे खोखले साबित हो गये वरिष्ठ नेताओं के कपड़े फाड़ने तथा प्रदेश अध्यक्ष राष्ट्रीय नेताओं के पोस्टरों में कालिख तक पोती गयी है। भाजपा के चुनाव प्रभारी में मनसुख मंडाविया तक से अभद्रता की गयी नारे बाजी की गयी।

कांग्रेस संचार विभाग अध्यक्ष सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि भाजपा मे लोकतंत्र समाप्त हो गया, प्रत्याशी चयन के लिये कार्यकताओं से रायशुमारी नही की गयी, क्षेत्र में बाहरी प्रत्याशियों को थोपा गया है। भाजपा का केन्द्रीय नेतृत्व भी स्थानीय नेतृत्व के साथ सामंती व्यवहार कर रहा है। जिसके कारण वरिष्ठ नेता भी खुद का उपेक्षित महसूस कर रहे है। दिल्ली के नेता, छत्तीसगढ़ के बड़े नेताओं और कार्यकताओं को अपमानित कर रहे है जिसके कारण प्रत्याशी घोषित होने के बाद भाजपा में बगावत देखने को मिल रही है।

कांग्रेस संचार विभाग अध्यक्ष सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि भाजपा की सिर फुटौव्वल की अभी शुरूआत हुई है जैसे ही पूरे 90 प्रत्याशी घोषित हो जायेंगे पार्टी में बड़ा बगावती बम पूरे 90 विधानसभा क्षेत्रों मे फूटेगा। प्रदेश चुनाव प्रभारी मनसुख मंडाविया का यह बयान की अभी तो वायरल सूची है। अधिकृत सूची के बाद क्या होगा भाजपा के अंदरूनी हालात को बयान करने के लिये काफी है। भाजपा राज्य में मुद्दाविहीन और नेतृत्व विहीन तो थी ही जिस प्रकार से बगावत हो रहा है। उससे साबित हो रहा है कि भाजपा दिशाहीन भी हो चुकी है।

 

Share Now

Leave a Response