दुनिया

प्रधानमंत्री ने कहा विश्व में विश्वास के अभाव का संकट, ये साथ मिलकर चलने का समय है

92views
Share Now

नई दिल्‍ली: जी20 शिखर सम्‍मेलन की आधिकारिक शुरुआत हो गई है.प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के स्वागत भाषण के साथ जी20 शिखर सम्मेलन की शुरुआत हुई. पीएम मोदी ने जी-20 शिखर सम्मेलन को संबोधित करते हुए देश का नाम लेते समय ‘भारत’ शब्द का इस्तेमाल किया. पीएम मोदी ने इस अवसर पर कहा, “कोविड-19 महामारी के बाद दुनिया विश्वास की कमी से जूझ रही है तथा युद्ध ने इसे और गहरा कर दिया है. हम ऐसे दौर में जी रहे हैं, जब सदियों पुरानी समस्याएं जवाब मांग रही हैं, हमें मानव-केंद्रित दृष्टिकोण के साथ अपनी जिम्मेदारियों को पूरा करने की जरूरत है. सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास, सबका प्रयास’ की अवधारणा दुनिया का मार्गदर्शन कर सकती है.” इस अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि 21वीं सदी का यह समय दुनिया को नई दिशा दिखाने वाला समय है. बरसों पुरानी चुनौतियां हमसे नए समाधान मांग रही है. हमें मानवता वादी केंद्रित होकर इन समस्याओं को सुलझाना है. हमें पूरा विश्‍वास है कि मिलकर हम इन समस्‍याओं को सुलझा लेंगे. इस दौरान शिखर सम्मेलन का पहला सत्र शुरू होने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जी20 के स्थायी सदस्य के रूप में अफ्रीकी संघ के प्रमुख को अपनी सीट लेने के लिए आमंत्रित किया.

 

Share Now

Leave a Response