प्रदेश

अदाणी नेचुरल रिसोर्सेज ने ‘प्रगति परियोजना’ का किया शुभारंभ, माइनिंग सरदार दक्षता परीक्षा की तैयारी के लिए शुरू हुई, योजना

84views
Share Now

रायगढ़:: अदाणी नेचुरल रिसोर्सेज (एएनआर) द्वारा कोयला खदानों में एक वैधानिक पद ‘माइनिंग सरदार दक्षता प्रमाण पत्र’ की परीक्षा की निःशुल्क तैयारी के लिए ‘प्रगति परियोजना’ का शुभारंभ बुधवार को किया गया। जिले के तमनार विकासखंड में स्थित गारे पेल्मा-III कोलियरी लिमिटेड (जीपी-III सीएल) परिसर के व्यावसायिक प्रशिक्षण केंद्र में इस कार्यक्रम का उद्घाटन 20 दिसंबर 2023 को चीफ ऑफ क्लस्टर श्री मुकेश कुमार द्वारा किया गया। इस मौके पर रांची के प्रसिद्ध प्रशिक्षक श्री बिजय किशोर, महाप्रबंधक तकनीकी प्रशिक्षण श्री रवि रेमी, क्लस्टर एचआर हेड श्री केके दुबे, सहित अन्य विभागों के प्रमुख मौजूद थे। इस कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य एक वैधानिक नियोक्ता के रूप में परियोजना प्रभावित ग्रामों के सक्षम युवाओं को कोयला खनन उद्योग से जोड़ने के लिए आवश्यक व्यावसायिक प्रशिक्षण देकर उनमें कार्यकुशलता तथा जिम्मेदारी के स्तर को बढ़ाना है। प्रशिक्षण के प्रथम बैच में खदान में कार्यरत ग्राम मिलूपारा, खमरिया, करवही, बजरमुड़ा और ढोलनारा गांव के कुल 28 पात्र उम्मीदवारों को प्रशिक्षण के लिए चुना गया है। जिन्हें इस दौरान कुशल नेतृत्व में जिम्मेदारी पूर्वक तैयारी कराई जाएगी।

अपने शुभेच्छा सन्देश में क्लस्टर प्रमुख श्री मुकेश कुमार ने कहा कि,” जीपी-III सीएल द्वारा अपने परियोजना प्रभावित गांव में समावेशी विकासात्मक प्रक्रियाओं को चलाया जा रहा है। डीजीएमएस द्वारा कोयला खदानों में एक वैधानिक पद के लिए आयोजित माइनिंग सरदार प्रमाण पत्र की दक्षता परीक्षा की तैयारी के लिए आज हमने ‘प्रगति’ नाम से प्रशिक्षण कार्यक्रम शुरू किया है जिससे इस खदान में कार्यरत कर्मचारियों को परीक्षा की बारीकियों को समझाया जायेगा। वहीं नए सक्षम उम्मीदवारों को भी इस परीक्षा को पास करके कई खदानों में वैधानिक पदों पर नियुक्ति मिल सकती है।”

कार्यक्रम के दौरान प्रशिक्षक व फैसिलिटेटर श्री बिजय किशोर ने प्रशिक्षण पद्धति तथा अन्य दिशानिर्देशों की जानकारी देते हुए बताया कि,“खान सुरक्षा महानिदेशालय (डीजीएमएस), धनबाद द्वारा कोयला खदानों में माइनिंग सरदार पद के लिए हर साल दिसम्बर माह में दक्षता प्रमाण पत्र की परीक्षा आयोजित की जाती है। यह पद किसी भी कोयला खनन कंपनी में बहुत ही जरुरी तथा जिम्मेदारी वाला होता है। साथ ही इसमें पास होने से कर्मचारी के वेतन और तरक्की की संभावनाएं बेहतर होती हैं।“

इस दौरान उपस्थित प्रतिभागियों में ग्राम करवही के पवन कुमार राठिया ने कहा कि,“मैं जीपी-III सीएल में ब्लास्टीन्ग विभाग में पिछले तीन सालों से कार्यरत हूँ। मुझे पता लगा कि कंपनी द्वारा राष्ट्रीय स्तर की माइनिंग सरदार प्रमाण पत्र परीक्षा की तैयारी करायी जाएगी। मैंने अपनी पदोन्नति के लिए इस विशेष परीक्षा की तैयारी हेतु प्रवेश लिया है। मुझे पूर्ण विश्वास है कि यहां के विशेषज्ञ प्रशिक्षक की सहायता भविष्य में मुझे इस परीक्षा में जरूर सफलता मिलेगी।“

“मैंने स्नातक की पढ़ाई की है,और जीपी-III सीएल में सर्वेयर विभाग में पिछले चार सालों से कार्यरत हूँ। मैंने पहले माइनिंग सरदार की परीक्षा दी थी, परन्तु पर्याप्त मार्गदर्शन ना मिलने से मैं पास नहीं हो सका। मेरे सीनियर ने मुझे बताया की जीपीIIIसीएल खदान के व्यावसायिक प्रशिक्षण केंद्र में इस परीक्षा के लिए भी तैयारी करायी जाएगी। मैंने यहां प्रवेश लिया है और इससे मेरा उत्साह और आत्विश्वास भी बढ़ा है।“ ग्राम मिलूपारा के लुकेश्वर राठिया ने बताया।

छत्तीसगढ़ राज्य विद्युत उत्पादन निगम लिमिटेड की खदान, गारे पेल्मा – III कोलियरी लिमिटेड, तमनार के खनन एवं विकासकार्य, अदाणी नेचुरल रिसोर्सेज द्वारा किया जा रहा है। जिसके सामाजिक उत्तरदायित्वों के निर्वहन के अंतर्गत क्षेत्र में शिक्षा,स्वास्थ्य,आजीविका उन्नयन तथा अधोसंरचना विकास के विभिन्न प्रकार के कार्यक्रमों का संचालन किया जा रहा है। जिनमें क्षेत्र के युवाओं को इन्जीनियरिंग तथा मेडिकल प्रवेश परीक्षा की तैयारी के लिए भी निःशुल्क ऑनलाइन कोचिंग दिया जाता है। जिसमें शिक्षा सत्र 2022-23 के लिए इस कोचिंग केंद्र से एक छात्रा ने मेडिकल कॉलेज तथा दो छात्रों ने इन्जीनियरिंग कॉलेज में प्रवेश लिया है।

Share Now

Leave a Response