प्रदेश

साइंस कॉलेज में “मोटा अनाज और स्वास्थ्य” विषय पर हुआ, व्याख्यान

124views
Share Now

रायपुर: आज रक्षा अध्ययन विभाग, साइंस कॉलेज द्वारा ‘अंतर्राष्ट्रीय मिलेट वर्ष : 2023’ के उपलक्ष्य में “मोटा अनाज और स्वास्थ्य” विषय पर व्याख्यान संपन्न हुआ। मुख्य वक्ता के रूप में  कविता देव नडीमपाली ने अपने व्याख्यान प्रस्तुत किये।
कविता ने मोटा अनाज की पौष्टिक गुण और शरीर में इसकी आवश्यकता पर प्रकाश डालीं। श्रीमती कविता ने बताया कि भारत मोटा अनाज का केंद्र है। हमारे पूर्वज मोटा अनाज ही खाते थे। मोटा अनाज के फसल को पथरीले और अनुपजाऊ जमीन तथा अल्प वर्षा में भी उत्पादित कर सकते है। छत्तीसगढ़ में रागी, कोदो, कुटकी जैसे मोटा अनाज लोकप्रिय है।


कार्यक्रम में प्रथम वक्ता के रूप में प्रो. गिरीश कान्त पांडेय ने बताया कि वर्ष 2023 को संयुक्त राष्ट्र संघ,भारत और छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा अंतर्राष्ट्रीय मिलेट वर्ष के रूप में मनाया जा रहा है। प्रो पांडेय ने सभी से आव्हान किया कि वे आहार में मिलेट को जरूर शामिल करें।
कार्यक्रम का संचालन मालविका मधु नायर तथा धन्यवाद ज्ञापन डा. प्रवीण कड़वे ने प्रस्तुत किया, वहीं कार्यक्रम की संयोजिका डॉ. गीतांजलि चंद्राकर रहीं। कार्यक्रम में बड़ी संख्या में छात्र-छात्राएं उपस्थित थे।

Share Now

Leave a Response