प्रदेश

सारे भ्रष्ट तो भाजपा के फूल के पंखुड़ियों में लटके हुये हैं: कांग्रेस

53views
Share Now

छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी

प्रेस विज्ञप्ति

रायपुर: पूर्व गृहमंत्री रामविचार नेताम के लटकाने वाले बयान पर पलटवार करते हुऐ प्रदेश कांग्रेस के वरिष्ठ प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि सारे भ्रष्टाचारी घोटालेबाज कमीशनखोर तो भाजपा के फूल के पंखुड़ियों में लटके हुये। पूरा प्रदेश जानता है की रामविचार नेताम जब गृह मंत्री थे तब इंदिरा प्रियदर्शनी बैंक घोटाला के घोटालेबाजो को बचाने के लिए बैंक मैनेजर से करोड़ों रुपए की रिश्वत लिए थे। बैंक मैनेजर ने तत्कालीन मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह, बृजमोहन अग्रवाल, अमर अग्रवाल, राजेश मूणत को भी करोड़ो रुपया रिश्वत देना नार्को टेस्ट में स्वीकार किया है। ये सब अमित शाह के साथ मचं मे थे। राम विचार नेताम के परिजनों पर संरक्षित जनजाति राष्ट्रपति के दत्तक पुत्र कोरवा जनजाति के जमीन को कूटरचना कर हड़प्पने का आरोप है। रामविचार नेताम 15 साल के रमन शासन काल के एक लाख करोड रुपए के भ्रष्टाचार के सहयोगी रहे हैं। ऐसे में राम विचार नेताम विधायक के प्रत्याशी बनने के बाद लटकाने की बात कह कर जनता का ध्यान भटका नहीं सकते हैं।
प्रदेश कांग्रेस के वरिष्ठ प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि भाजपा नेता लटकाने, तोड़ने और फोड़ने के अलावा कोई बात भी नहीं कर सकते हैं। इन्हें भारत के संविधान पर भरोसा नहीं है और जिन पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाते हैं उन्हें भाजपा ब्लैकमेलिंग करके अपने दल में शामिल करती है और उसे बचाती है। भाजपा भ्रष्टाचार के खिलाफ नहीं है बल्कि भ्रष्टाचार करने वालों को संरक्षण देती है अमित शाह में लटकाने की क्षमता होती तो भाजपा के आधे नेता आज जेल में होते।
प्रदेश कांग्रेस वरिष्ठ प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने भाजपा पर कटाक्ष करते हुए कहा कि अमित शाह भ्रष्टाचारियों को लटकाते तो 15 साल तक कमीशनखोरी और भ्रष्टाचार की काली कमाई के मास्टरमाइंड रहे भाजपा नेता मंच पर नजर नहीं आते सब जेल में होते। अमित शाह के साथ मचं पर पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह बैठे थे जिनके शासनकाल में 1 लाख करोड़ रुपए के भ्रष्टाचार के आरोप है जिनके खिलाफ नान घोटाला, चिटफंड घोटाला, पनामा पेपर घोटाला की शिकायत प्रधानमंत्री और ईडी से की गई है। मचं पर पूर्व मंत्री बृजमोहन अग्रवाल मौजूद थे जिनके परिजनों पर झलकी में सरकारी जमीन पर कब्जा की शिकायत पीएमओ में लंबित है। राजेश मूणत जिनके ऊपर स्काईवॉक में आर्थिक गड़बड़ियां की शिकायत है हजारों करोड़ का भ्रष्टाचार का आरोप है। और ऐसे कई नाम है जो मंच में बैठे थे जिन पर भ्रष्टाचार कमीशन खोरी के गंभीर आरोप है।
प्रदेश कांग्रेस के वरिष्ठ प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि भ्रष्टाचार के सवाल पर सदन छोड़कर भागने वाले भाजपा के नेता किस मुंह से बात कर रहे हैं जब राहुल गांधी ने सदन में पूछा कि अडानी के सेल कंपनियों में लगे 20000 करोड रुपए किसका है भाजपा नेताओं की बोलती बंद हो गई। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भाषण में अजीत पवार के ऊपर 70000 करोड रुपए का घोटाला करने का आरोप लगाए उसी अजीत पवार को भाजपा गठबंधन की सरकार में उपमुख्यमंत्री बनती है। ईडी चार्ज सीट से उसका नाम हटाती है। ये सब भाजपा के पूजनीय है।

 

Share Now

Leave a Response