मनोरंजन

जेलर की 600 करोड़ की कमाई होते ही, रजनीकांत सीधे जा पहुंचे वो बस डिपो… जहां से शुरू की थी कंडेक्टर की नौकरी

117views
Share Now

मुम्बई:सुपरस्टार रजनीकांत की फिल्म ‘जेलर’  ने बॉक्स ऑफिस पर कई रिकॉर्ड को ध्वस्त कर दिया है. वर्ल्ड वाइड रजनीकांत की फिल्म ने 600 करोड़ से ज्यादा कमाई कर ली है. रजनीकांत इन दिनों फैंस से मिलने पूरे देश का दौरा कर रहे हैं. हाल में ही वह उत्तर प्रदेश और अयोध्या भी पहुंचे थे.  बेंगलुरु महानगर परिवहन निगम (बीएमटीसी) के उस बस स्टैंड पर पहुंचकर यादों में खो गए, जहां उन्होंने कभी बस कंडक्टर के रूप में काम किया था.

72 वर्षीय रजनीकांत का जलवा बरकरार है. जब वह जयनगर के बस स्टैंड पर पहुंचे तो उनके फैंस बेहद खुश हो गए. बीएमटीसी के वाहन चालकों, कंडक्टरों और अन्य कर्मचारियों के साथ उन्होंने गर्मजोशी से कुछ समय बिताया. रजनीकांत का पहले नाम शिवाजी राव गायकवाड़ था. वह इसी नाम से बस कंडक्टर के रूप में काम करते थे. जब उन पर महान तमिल डायरेक्टर दिवंगत के. बालचंदर की नजर पड़ी और उन्हें रजनीकांत नाम दिया. उन्हें साल 1975 में आई फिल्म ‘अपूर्वा रागंगल’ में डेब्यू का मौका मिला. यह फिल्म सुपरहिट रही. इस फिल्म में दिग्गज कमल हासन ने भी अभिनय किया था.

रजनीकांत के बस डिपो पहुंचने पर बीएमटीसी के यातायात पारगमन प्रबंधन केंद्र (टीटीएमसी) के कर्मचारियों ने उनका स्वागत किया और उन्हें चारों तरफ से घेर लिया. रजनीकांतकुछ देर उनसे बात की और तस्वीरें भी खिंचवाईं. कुछ फैंस उनके पैर भी छूने लगे. इसके बाद एक्टर यहां राघवेंद्र स्वामी मठ भी गए. रजनीकांत ने फिल्म ‘श्री राघवेंद्रर’ में मुख्य भूमिका निभाई थी, जो माधव संप्रदाय के 16वीं-17वीं शताब्दी के संत-कवि के जीवन पर आधारित थी. रजनीकांत का बचपन बेंगलुरु में बीता था. यहां वहां 22 साल की उम्र तक शहर में रहे. फिल्मी दुनिया का सफर तय करने के लिए उन्होंने अपना नया ठिकाना चेन्नई बनाया. चेन्नई जाने से पहले, उन्होंने बैंगलोर परिवहन सेवा (बीटीएस) में एक कंडक्टर के रूप में काम किया था. साल 2023 रजनीकांत के बहुत बेहतरीन रहा है. 2 साल बड़े पर्दे पर वापसी करने वाले नेल्सन दिलीपकुमार के निर्देशन में बनी फिल्म ‘जेलर’ में नजर आए. यह फिल्म 10 अगस्त को रिलीज हुई थी.

Share Now

Leave a Response