प्रदेश

राखी के समय फिर छत्तीसगढ़ कि 22 ट्रेनों को रद्द करना राज्य के लोगो के साथ अन्याय -कांग्रेस

70views
Share Now

रायपुर:/छत्तीसगढ़ से हो कर गुजरने वाली यात्री ट्रेनों को मोदी सरकार द्वारा लगातार रद्द किया जा रहा है। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष दीपक बैज नें कहा कि यात्री ट्रेनों को रद्द किये जाने से आम नागरिकों को परेशानी हो रही है ठीक राखी त्यौहार के अवसर पर 2 ट्रेनों के मार्ग परिवर्तित कर दिया गया तथा 22ट्रेन रद्द कर दिया गया है। मोदी सरकार जानबूझ कर छत्तीसगढ़ के नागरिकों को परेशान कर रही है पहली बार ऐसा नहीं हुआ है पिछले दो तीन साल से छत्तीसगढ़ के लोगो को ट्रेन के मामले मे मोदी सरकार परेशान कर रही है।
प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष दीपक बैज नें कहा कि बीते 3 साल और 5 माह में रायपुर से होकर गुजरने वाली 64382 ट्रेन को रद्द कर दिया गया। लोकल ट्रेनों को खड़ी कर दिया गया और सिर्फ मालगाड़ी को चलाया गया ताकि प्रदेश से कोयला बॉक्साइट आयरन ओर को ले जाया जा सके और रेल यात्री को हो रही असुविधा को नजरअंदाज किया गया। जब भी ट्रेनें रद्द हुई तब भाजपा के 9 सांसद मौन रहते थे और प्रदेश की रेल यात्री की समस्याओं पर चर्चा करने से भागते थे।
प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष दीपक बैज ने कहा कि कांग्रेस शासन काल के समय से नियमित चलने वाली एक्सप्रेस सुपरफास्ट एवं पैसेंजर ट्रेनों को बंद किया गया इसका मुख्य कारण था मोदी सरकार का रेलवे को निजीकरण की ओर ले जाना। वंदे भारत ट्रेन शुरू करने के नाम से ढिंढोरा पीटने वाली भाजपा के नेता जब प्रदेश से चलने वाली वंदे भारत ट्रेन को बंद किया गया, डिब्बा की संख्या में कटौती किया गया, वंदे भारत ट्रेन की जगह महंगी दरों वाली तेजस को शुरू किया गया तब भी भाजपा के नेता मौन थे तेजस को बंद करके फिर वंदे भारत शुरू किया गया तब भी भाजपा के नेता मौन है। मोदी सरकार के रेल मंत्रालय ने छत्तीसगढ़ को प्रयोगशाला बना दिया है और भाजपा के 9 सांसद जनता की समस्याओं पर मौन रहते हैं।
प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष दीपक बैज नें कहा कि लगातार ट्रेनों के रद्द होने से मोदी सरकार कि नीयत पर सवाल खड़ा होता है।ट्रेनों का रद्द होना एक प्रश्न चिन्ह खड़ा करता है कही रेल को बेचने कि साजिश तो नहीं कि जा रही है?मध्यम एवं गरीब वर्ग के लिए ट्रेन सस्ता एवं अच्छा साधन होता है। त्योहारी सीजन की शुरुआत हो रही है पिछली 3 साल से रक्षाबंधन के त्यौहार में ट्रेन के रद्द होने के कारण बहनें अपने भाई को राखी नहीं बांध पा रही है जबकि रक्षाबंधन का त्यौहार साल में एक बार आता है जिनका बेसब्री से भाई एवं बहन इस दिन का इंतजार करते हैं। दीपावली, दशहरा, ईद हर त्यौहार में ट्रेनों का रद्द होना आम जनता के लिए बहुत बड़ी परेशानी बन गई है। वह ने इस समय भी परेशान एवं चिंतित है क्या मोदी सरकार के गलत नीति के कारण फिर से इस बार भी रक्षाबंधन में ट्रेन को रद्द कर दिया गया।

 

Share Now

Leave a Response