खेल

53 सदस्यीय कलरिपयतु दल आज त्रिवेंद्रम रवाना

69views
Share Now

रायपुर:भारतीय कलरिपयतु महासंघ के निर्देशन में केरल कलरिपयतु संघ के द्वारा 11 से 13 अगस्त 2023 को 15 वीं राष्ट्रीय कलरिपयतु चैंपियनशिप 2023 का आयोजन राष्ट्रीय लक्ष्मीबाई फिजिकल एजुकेशन कॉलेज त्रिवेन्द्रम, केरल में किया जा रहा है।

राष्ट्रीय चैंपियनशिप में भाग लेने 53 सदस्यीय राज्य दल राज्य कलरिपयतु संघ के महासचिव श्री कमलेश देवांगन के नेतृत्व में आज 08 अगस्त को बिलासपुर त्रिवेंद्रम सुपरफास्ट एक्सप्रेस ट्रेन से रवाना हुआ जिसमे 49 खिलाड़ी और 04 अधिकारी शामिल हैं।

विगत दिनों 15 – 16 जुलाई 2023 को बिलासपुर में आयोजित द्वितीय राज्य स्तरीय कलरिपयतु चैंपियनशिप में प्रदर्शन के आधार पर अलग अलग इवेन्ट में राज्य दल चुना गया हैं। राष्ट्रीय प्रतियोगिता सब जूनियर, जूनियर एवं सीनियर तीन आयु वर्ग में आयोजित होगी जिसमें चुवदुकल (फ्री हैंड डेमोंस्ट्रेशन), मैपयट्टू, डंडा फाइट, तलवार ढाल, फ्लेक्सिबल तलवार, हाई किक इवेंट एवं फाइट इवेंट में प्रतिभागी भाग लेंगे।

त्रिवेन्द्रम रवानगी के पूर्व राज्य कलरिपयतु संघ के प्रतिनिधि मण्डल ने छ ग राज्य के राज्यपाल  विश्वभूषण हरिचंदन से राजभवन में सौजन्य भेँट कर कलरिपयतु खेल की खेलो इण्डिया में लगातार दो वर्षों से राज्य के लिए अर्जित उपलब्धियों, 37 वीं राष्ट्रीय खेल गोवा में कलरिपयतु खेल के शामिल होने की जानकारी तथा खेल एवं युवा कल्याण विभाग छत्तीसगढ़ में मान्यता हेतु आवेदन प्रस्तुत किया गया है की जानकारी  राज्यपाल महोदय को दी गयी।

*छ ग कलरिपयतु संघ के अध्यक्ष लखन कुमार साहू, रायपुर जिला कलरिपयतु संघ के अध्यक्ष अनीस मेमन, सचिव अमन यादव, शहीद वीर नारायण स्पोर्ट्स क्लब बालोद के डायरेक्टर किशोरनाथ योगी राष्ट्रीय कलरिपयतु खिलाड़ी विनय यादव प्रतिनिधि मण्डल में शामिल थे।

छत्तीसगढ़ कलरिपयतु एसोसिएशन के सचिव कमलेश देवांगन ने बताया कि कलरिपयतु खेल, खेल एवं युवा कल्याण मंत्रालय भारत सरकार से मान्यता प्राप्त है तथा 37 वीं राष्ट्रीय खेल एवं खेलो इंडिया यूथ गेम्स में शामिल है 15वीं राष्ट्रीय प्रतियोगिता में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले खिलाड़ियों का चयन खेलो इंडिया यूथ गेम्स एवं 37 वीं राष्ट्रीय खेल गोवा के लिए चयन किया जाएगा। 5वीं खेलो इंडिया यूथ गेम्स में छत्तीसगढ़ के रितिक कुमार सिंह के प्रतियोगिता में कांस्य पदक प्राप्त किया था जिसके लिए खेल एवं युवा कल्याण छत्तीसगढ़ शासन के द्वारा 1 लाख रुपये की राशि पुरस्कार स्वरूप प्राप्त हुआ था।*

 

Share Now

Leave a Response