देश

‘मन की बात’ में प्रधानमंत्री बोले: “हमें पेड़ लगाने और पानी बचाने के लिए एक साथ मिलकर करना चाहिए काम “

83views
Share Now

नई दिल्ली:प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने  ‘मन की बात’ में कहा कि ‘सर्वजन हिताय ही भारत की भावना और ताकत’ है. इसका उदाहरण हाल ही में देखने को मिली, जब बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में एनडीआरएफ की टीम ने बहुत अच्‍छा काम किया.

प्रधानमंत्री ने कहा, “जुलाई का महीना यानी मॉनसून का महीना, बारिश का महीना. बीते कुछ दिन प्राकृतिक आपदाओं के कारण चिंता और परेशानी से भरे रहे हैं. यमुना समेत कई नदियों में बाढ़ से कई इलाकों में लोगों को तकलीफ उठानी पड़ी. पहाड़ी इलाकों में भू-स्खलन की घटनाएं भी हुई हैं. बारिश का यही समय ‘वृक्षारोपण’ और ‘जल संरक्षण’ के लिए भी उतना ही जरूरी होता है. आजादी के ‘अमृत महोत्सव’ के दौरान बने 60 हजार से ज्यादा अमृत सरोवरों में भी रौनक बढ़ गई है. अभी 50 हजार से ज्‍यादा अमृत सरोवरों को बनाने का काम चल रभी रहा है. हमार देशवासी पूरी जागरूकता और जिम्‍मेदारी के साथ जल संरक्षण के लिए नए-नए प्रयास कर रहे हैं.  उन्‍होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में एक दिन में रिकॉर्ड 30 करोड़ पौधे लगाए जाना जन भागीदारी और जागरूकता का उदाहरण है. प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि इस बार 4, 000 से अधिक मुस्लिम महिलाओं ने ‘महरम’ (पुरुष साथी) के बगैर हज किया. उन्होंने हज नीति में बदलाव का जिक्र किया और सऊदी अरब सरकार का आभार जताया.

 

Share Now

Leave a Response