मनोरंजन

ये बच्चा ताउम्र अपने पिता से नाराज रहा. आज हैं,बॉलीवुड का सुपरस्टार

112views
Share Now

रायपुर:उम्रभर पिता से नाराज रहा सूट बूट पहना ये बच्चा, कब्र पर पहली बार की अब्बू से बात, आज है फिल्मों का राजा…पहचाना क्या?

फोटो में दिख रहा ये बच्चा ताउम्र अपने पिता से नाराज रहा. आज ये बॉलीवुड का सुपरस्टार हैं और इनके घर पर अवार्ड्स का मेला लगा है. क्या आप इन्हें पहचान पाए?

नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा का संजीदा और उम्दा कलाकार, जिसने एक्टिंग के दम पर ऐसी पहचान बनाई, जिसका कोई मुकाबला नहीं. बड़े होकर इस बच्चे ने अपने हुनर से वो झंडे गाड़े हैं, जिनकी मिसाल दी जा सकती है. लेकिन ड्रामा स्कूल के शुरुआती दिनों में उन्हें बदशक्ल कह कर कभी मजाक बना तो कभी खारिज भी कर दिए गए. आज उसी शक्ल और दमदार डायलॉग डिलीवरी के साथ ये बच्चा दुनियाभर में बतौर दिग्गज कलाकार अपना नाम बना चुका है. वेनिस के फिल्म फेस्टिवल से लेकर देश में तीन तीन नेशनल अवॉर्ड भी जीत चुका है. क्या आपने पहचाना ये बच्चा कौन है.
ये बच्चा है बॉलीवुड का दिग्गज कलाकार नसीरुद्दीन शाह, जिनकी एक्टिंग पर कोई सवाल खड़े नहीं किए जा सकते. लेकिन अपने शुरूआती दिनों में अपनी शक्ल को लेकर नसीरुद्दीन शाह को खूब मजाक झेलना पड़ा. उनके बारे में एक किस्सा मशहूर है कि उन्हें देखकर एक एक्ट्रेस ने कमेंट किया था कि क्या इस बदशक्ल हीरो के साथ काम करना होगा.

सिर्फ एक्ट्रेस ही नहीं, मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक उनकी गर्लफ्रैंड ने भी उन्हें ये कह कर छोड़ दिया कि तुम हीरो की तरह सुंदर दिखाई नहीं देते. बाद में इन्हीं लुक्स के चलते श्याम बेनेगल ने उन्हें फिल्म में ब्रेक दिया. क्योंकि, उन्हें वैसा ही दिखने वाला एक्टर चाहिए था. नसरुद्दीन शाह के रिश्ते उनके पिता से भी कुछ खास नहीं रहे. वे अपने पिता से ताउम्र नाराज रहे और कहते हैं कि पिता के इंतकाल के बाद पहली बार उन्होंने कब्र पर जाकर उनसे बात की थी.

नसीरुद्दीन शाह को एक बार मौका मिला तो उन्होंने कभी पलट कर नहीं देखा. वो लगातार कामयाबी की सीढ़ियां चढ़ते चले गए. अपने करियर में उन्होंने रोमांटिक हीरो से लेकर कॉमेडी और एक्शन रोल तक किए. उनके हुनर का जलवा कुछ ऐसा है कि तीन फिल्म स्पर्श, पार और इकबाल के लिए उन्हें नेशनल फिल्म अवॉर्ड मिल चुका है. तीन फिल्मफेयर, एक आईफा और एक वेनिस फिल्म फेस्टिवल का वोल्पी कम बेस्ट एक्टर अवॉर्ड भी उनकी झोली में पड़ा है. साल 1987 में भारत सरकार ने उन्हें पद्मश्री और साल 2003 में पद्म भूषण से नवाजा था.

Share Now

Leave a Response