Uncategorized

भाजपा छत्तीसगढ़ में अशांति फैलाने का षड़यंत्र रच रही – कांग्रेस

70views
Share Now

रायपुर: भारतीय जनता पार्टी छत्तीसगढ़ में अशांति फैलाने का षडयंत्र रच रही है। प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि पहले प्रधानमंत्री ने मणिपुर से छत्तीसगढ़ की तुलना की, केन्द्रीय मंत्री पियुष गोयल ने छत्तीसगढ़ की तुलना मणिपुर से की और भारतीय जनता पार्टी का छत्तीसगढ़ का एक नेता ने मणिपुर के बाद अब छत्तीसगढ़ का नंबर सोशल मीडिया में पोस्ट किया है। यह इस बात का प्रमाण है कि भारतीय जनता पार्टी छत्तीसगढ़ में अशांति फैलाने के लिये कुछ न कुछ षडयंत्र रच रही है। आखिर छत्तीसगढ़ मणिपुर की साम्यता क्या है? मणिपुर में 50 हजार से अधिक लोग विस्थापित हो गये है। 5000 से अधिक घरो को जला दिया गया है। 100 से अधिक लोग मर गये है। माताये-बहनों को वहां नग्न करके घुमाया जा रहा है। ऐसे अशांत प्रदेश से भारतीय जनता पार्टी के  नेताओं के द्वारा छत्तीसगढ़ की तुलना किया जाना भाजपा के बड़े षड़यंत्र की ओर इशारा कर रह मुद्दाविहीन भाजपा निचले स्तर की राजनीति पर उतर आई है।
प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की सरकार बनने के बाद महिलाओं के जीवन जीने के लिये अपराधमुक्त सुरक्षित वातावरण तैयार हुआ है। एनसीआरबी के आंकड़े बताते है कि छत्तीसगढ़ में पिछले साढ़े 4 साल में महिलाओं के प्रति अपराधों में 78 प्रतिशत की कमी आई है। बलात्कार के मामलों में 62 प्रतिशत और सामूहिक बलात्कार के मामलों में 69 प्रतिशत तक की कमी आई है। घरेलू हिंसा में भी कमी आई है।
प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि राष्ट्रीय क्राइम रिकार्ड ब्यूरों के आंकड़ों के तुलनात्मक अध्ययन में भी छत्तीसगढ़ भाजपा के अंतिम तीन वर्ष (16,17,18) जब राज्य में भाजपा की सरकार थी कि अपेक्षा कांग्रेस राज में अपराधों में कमी आई है। पूर्व रमन भाजपा सरकार के दौरान दुष्कर्म के मामले में 2018 में प्रति लाख आबादी में घटित होने वाले अपराध में देश मे छत्तीसगढ़ प्रथम स्थान पर, वर्ष 2017 में दूसरे स्थान पर था। कांग्रेस सरकार के द्वारा मजबूत की गई कानून व्यवस्था महिलाओं की सुरक्षा के लिये उठाएंगे प्रभावी कदम के बाद वर्ष 2023 में इस अपराध में प्रभावी नियंत्रण हुआ आज छत्तीसगढ़ 9वें स्थान पर है। महिला के विरूद्ध घटित अपराध में छत्तीसगढ़ की स्थिति राष्ट्रीय स्तर पर 18वें स्थान पर है। अपहरण के अपराध घटित हुये है।राष्ट्रीय स्तर पर इस अपराध में छत्तीसगढ़ 13वें स्थान पर है। असम, उड़ीसा, हरियाणा, उत्तरप्रदेश, मध्यप्रदेश, महाराष्ट्र, बिहार, पश्चिम बंगाल, राजस्थान प्रति लाख आबादी में होने वाले अपहरण के अपराध छत्तीसगढ़ से अधिक है।
प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी का चरित्र सदैव महिला विरोधी रहा है। महिला पहलवान न्याय मांग रही थी, भाजपा उनका विरोध कर रही थी। कठुआ, उन्नाव, हाथरस में भाजपा के तमाम नेता बलात्कारियों के समर्थन में खड़े थे। भाजपा के 15 साल के कुशासन में छत्तीसगढ़ में 27 हजार से अधिक माताएं, बहने गायब हुई। रमन राज में ही इसी छत्तीसगढ़ में मीना खलको, मड़कम हिड़मे और झलियामारी जैसी दुष्कर्म और हत्या की जघन्य घटनाएं होती रही। कमीशन-खोरी के लालच में महिलाओं के जीवन को संकट में डाला गया, नसबंदी कांड, गर्भाशय कांड हुए। नाबालिक से दुष्कर्म के आरोपी ओपी गुप्ता को तत्कालीन मुख्यमंत्री रमन सिंह के सीएम आवास में संरक्षण मिलता रहा। पीड़िता के परिवार वालों पर दबाव बनाने, पीड़िता के परिजनों का अपहरण करने जैसे मामलों में भाजपा के कई दिग्गज नेता पूर्व में संलिप्त पाए गए हैं। भाजपा की पदाधिकारी गंगा पांडे मानव तस्करी के मामले में हरियाणा में पकड़ी गई। छत्तीसगढ़ में भयमुक्त वातावरण कांग्रेस सरकार का कमिटमेंट है और प्रशासन अपनी जिम्मेदारी बेहतर तरीके से निभा रही है।

 

Share Now

Leave a Response