देश

माटी पुत्र मेजर जनरल सुधीर शर्मा को एके 203 (AK 203) असॉल्ट राइफल्स कंपनी के सी ई ओ और एम डी के रूप में चुना हुआ, चयन

80views
Share Now

नई दिल्ली:छत्तीसगढ़ के मेजर जनरल सुधीर शर्मा को एके 203 (AK 203) असॉल्ट राइफल्स कंपनी के सी ई ओ और एम डी (CEO & MD) के रूप में चुना गया।

मेजर जनरल सुधीर शर्मा को रक्षा मंत्रालय द्वारा आई आर आर पी एल (IRRPL) (इंडो रशियन राइफल्स प्राइवेट लिमिटेड) के मुख्य कार्यकारी अधिकारी और प्रबंध निदेशक (CEO & MD) के रूप में चुना गया है। आई आर आर पी एल भारत और रूस के बीच एक संयुक्त उद्यम है और उत्तर प्रदेश के अमेठी में ‘मेक इन इंडिया’ कार्यक्रम के तहत भारत में ए के 203 (AK 203) असॉल्ट राइफलें बना रहा है। कंपनी के पास अगले 10 साल में करीब 5300 करोड़ रुपये की लागत से 6 लाख ए के 203 राइफल बनाने का ऑर्डर है। इसमें रूस से प्रौद्योगिकी का हस्तांतरण भी शामिल है।

मेजर जनरल सुधीर शर्मा पाटन से हैं और श्री अश्विनी कुमार मिश्रा और चंपा मिश्रा के पुत्र हैं। वे स्वर्गीय श्री महेश तिवारी (छत्तीसगढ़ विधानसभा में विपक्ष के उप नेता) के दामाद हैं।

वे छत्तीसगढ़ के पहले सेना अधिकारी हैं जो इस उच्च पद पर पहुंचे और 2020-21 में मेरठ में एक इन्फैंट्री डिवीजन की कमान संभाली।
वे 2017-20 के बीच पेरिस, फ्रांस में रक्षा अताशे भी थे जहां वे भारत और फ्रांस के बीच रक्षा संबंधों के लिए जिम्मेदार थे। वर्तमान में, वे सेना मुख्यालय नई दिल्ली में तैनात हैं और इस वर्ष के लिए लगभग 30,000 करोड़ रुपये के बजट के साथ भारतीय सेना के लिए सैन्य सामग्री अधिग्रहण के लिए जिम्मेदार हैं।

यह छत्तीसगढ़ के लिए गर्व की बात है क्योंकि यह पहली बार है कि सेना के किसी जनरल रैंक के अधिकारी को रणनीतिक रूप से महत्वपूर्ण निजी कंपनी का प्रमुख (CEO & MD) चुना गया है।

Share Now

Leave a Response