प्रदेश

देश की अभिमान महिला पहलवानों के साथ मोदी सरकार का बर्ताव शर्मनाक:ट्रेड यूनियन, खिलाड़ी संगठन और नागरिकों ने किया प्रदर्शन

89views
Share Now

 

रायपुर । केंद्रीय ट्रेड यूनियनों के संयुक्त मंच के देशव्यापी आव्हान के तहत देश के अंतराष्ट्रीय पदक विजेता रेसलर्स के साथ केंद्र की मोदी सरकार के व्यवहार की तीव्र निंदा करते हुए रायपुर में आज ट्रेड यूनियन, खिलाड़ी संगठन, नागरिक समाज के लोगों ने जबरदस्त प्रदर्शन किया तथा दिल्ली पुलिस के खिलाडियों के साथ बर्ताव तथा मोदी सरकार द्वारा भाजपा सांसद को बचाने की नीति का पुरजोर विरोध करते हुए सांसद बृजभूषण शरण सिंह को तत्काल गिरफ्तार करने की मांग की । ट्रेड यूनियनों के संयुक्त मंच के संयोजक धर्मराज महापात्र ने उक्त जानकारी देते हुए बताया कि रायपुर में आयोजित इस प्रदर्शन में अंतराष्ट्रीय हाकी खिलाड़ी सुशी नीता डुमरे भी शामिल हुईं। सैकड़ों की संख्या में उपस्थित प्रदर्शनकारियों को नीता डुमरे, खिलाड़ी साथी फुटबाल प्रशिक्षक मुश्ताक भाई, हाकी खिलाड़ी नौमान अकरम, टेबल टेनिस खिलाड़ी श्री चंदू, धर्मराज महापात्र, विनय बैसवाडे, एम के नंदी, एस सी भट्टाचार्य, सुरेंद्र शर्मा, अनुसुइया ठाकुर, शिरीष नालगुंडवार, राजेश अवस्थी, प्रदीप गभने, प्रदीप मिश्रा , नवीन गुप्ता, रंगकर्मी, निसार अली, पेंशनर्स संगठन के बी के ठाकुर ने प्रमुख रुप से संबोधित किया ।
सभी वक्ताओं ने केंद्र सरकार की घोर पक्षपात की नीति की निंदा करते हुए
पिछले एक महीने से अधिक समय से न्याय की मांग कर रही महिला पहलवानों के साथ दिल्ली पुलिस द्वारा क्रूर दमन की एक स्वर से निंदा की।
वक्ताओं ने कहा कि 28 मई, 2023 को पुलिस की कार्रवाई चरम चौंकाने वाली थी, स्पष्ट रूप से यह अलोकतांत्रिक, मनमानी, अमानवीय कार्यवाही जाहिर तौर पर यह सब केंद्र सरकार के आदेश पर ही हुआ । यह भाजपा सरकार के बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ नारे की हकीकत को बयां करता है । यह चौंकाने वाली बात है कि भारतीय कुश्ती महासंघ के अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह, जिन पर महिला पहलवानों ने यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया है, जिनमें से एक नाबालिग है, सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर उनके खिलाफ प्राथमिकी दर्ज होने के बावजूद उसे गिरफ्तार नहीं किया जा रहा है और पूरी मोदी सरकार बेशर्मी से उसे बचा रही है ।
जबकि देश की इन बेटियों , महिला पहलवानों ने हमारे पितृसत्तात्मक समाज में सामाजिक कलंक को झेलते हुए उसके खिलाफ शिकायत करने की बहुत बड़ी हिम्मत की है।
यह उसी तारीख को “नई संसद” के नाम पर जब प्रधानमंत्री न्याय का एलान कर रहे थे और चंद कदम दूरी पर न्याय मांगने वाली देश की अभिमान बेटियां पीटी जा रही थी ।
प्रदर्शनकारियों ने सांसद बृजभूषण शरण सिंह की तत्काल गिरफ्तारी की मांग करते हुए ,दिल्ली पुलिस द्वारा केंद्र सरकार के आदेश पर महिला पहलवानों पर
क्रूर दमन के दोषियों पर भी कार्यवाही की मांग की ।
प्रदर्शन को टेबल टेनिस संघ के अध्यक्ष विधायक कुलदीप जुनेजा, ओलंपिक संघ के उपाध्यक्ष शरद शुक्ला, आई एम ए के अध्यक्ष डाक्टर राकेश गुप्ता, डाक्टर विप्लव बंदोपाध्याय, हाकी खिलाड़ी विश्वजीत मित्रा ने भी समर्थन दिया ।
प्रदर्शन में सर्वसम्मति से उक्त मांग का प्रस्ताव पारित किया गया, जिसे राज्यपाल से भेंटकर राष्ट्रपति को प्रेषित किया जायेगा । प्रदर्शन में उपरोक्त साथियों के अलावा संदीप सोनी, गजेंद्र पटेल, शीतल पटेल, सुभाष साहू, आर्थो, रामानंद,ज्योति पाटिल फिबी भगत, संध्या भगत, अनुराग ठाकुर, आरिफ दहिया, साजिद रजा, वारिस खान, गर्व गभने सहित कई खिलाड़ी और एस एफ आई, जनवादी नौजवान सभा, आर डी आई ई यू, सी जी एस पी ई यू, एस टी यू सी के कार्यकर्ता प्रमुख रूप से शिरकत किए।

Share Now

Leave a Response