प्रदेश

महंगाई बेरोजगारी और गिरती अर्थव्यवस्था मोदी सरकार की उपलब्धि-मोहन मरकाम

73views
Share Now

रायपुर: प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने कहा कि बढ़ती महंगाई बेरोजगारी और गिरती अर्थव्यवस्था मोदी सरकार की उपलब्धि है और भाजपा के नेता इस उपलब्धि के यशोगान करने के लिए गांव गांव और गली गली घूम रहे हैं। और मंहगाई से जख्मी जनता के जख्मों पर नमक छिड़क कर जला रहे हैं भाजपा नेताओं में थोड़ी बहुत भी नैतिकता बाकी होगी तो उन्हें प्रदेश की जनता से माफी मांगनी चाहिए कि मोदी सरकार ने जो 100 दिनों महंगाई कम करने अच्छे दिन आने 15-15लाख रुपए खाते में जमा कराने 30 से 35 लीटर पेट्रोल डीजल देने सस्ते दरों में रसोई गैस देने सस्ते दरों में खाद्यान्न उपलब्ध कराने का जो वादा किया था उसे पूरा नहीं कर पाए हैं आज देश की जनता महंगाई बेरोजगारी से पीड़ित है और भाजपा के नेता जश्न मना रहे और महंगाई से पीड़ित जनता के जख्मों पर नमक छिड़क रहे है।

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने कहा कि मनमोहन सरकार के दौरान पेट्रोल डीजल के दाम में 25 पैसा की बढ़ोतरी होने पर भारतीय जनता पार्टी के नेता छाती पीटते थे सड़कों पर उतर कर हाय तौबा मचाते थे, आलू प्याज की माला पहनते थे, रसोई गैस का सिलेंडर लेकर धरना देते थे। आज देश की जनता जब महंगाई से त्रस्त है तो भाजपा के नेताओं के मुंह में फेवीकोल जम गया है जिनके हाथों में महंगाई कम करने की ताकत जनता ने दिया है वही लोग जनता के ऊपर टैक्स लगाकर महंगाई को बढ़ा रहे हैं मुनाफाखोरी को बढ़ा रहे हैं और पेट्रोलियम कंपनियों के साथ संगठित होकर लूटपाट कर रहे हैं।

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने कहा कि मोदी सरकार और पेट्रोलियम कंपनियां संगठित होकर देश की गरीब जनता को पेट्रोल डीजल में लूट रही है देश में महंगाई मोदी निर्मित आपदा है जिससे हर वर्ग हर घर प्रभावित है। कच्चे तेल का भाव अंतरराष्ट्रीय बाजार में 139 डॉलर से घटकर 76 डॉलर में आ गया है इसके बावजूद देश में पेट्रोल डीजल के दामों में कोई कमी नहीं करना, मोदी सरकार की मुनाफाखोरी की नीति मूल कारण है। मोदी सरकार लूटो और लूटने दो की पॉलिसी पर काम कर रही है। मोदी सरकार जनता को राहत देने के बजाय पेट्रोल कंपनी को फायदा पहुंचाने का काम कर रही है। केन्द्र सरकार की नैतिकता बनती है जब क्रूड आयल के दाम अंतराष्ट्रीय बाजार में कम हुये है और ऐसे में पेट्रोलियम पदार्थो के दाम भी भारत में भी कम होने चाहिये। मोदी सरकार द्वारा पेट्रोल डीजल के दाम में बेतहाशा एक्साइज ड्यूटी की वसूली की जा रही है केन्द्र सरकार के द्वारा, मुनाफाखोरी की जा रही है जो रसोई गैस के दाम में बढ़ोतरी की गयी है उसे तत्काल वापस लेना चाहिये।

 

Share Now

Leave a Response