प्रदेश

गौमूत्र से तैयार ब्रह्मास्त्र बेचकर दो समूहों को हुई 3.55 लाख रूपए से अधिक की आमदनी

84views
Share Now

रायपुर,:

रायपुर

छत्तीसगढ़ शासन द्वारा संचालित गोधन न्याय योजना के तहत कांकेर जिले के ग्राम भिरौद और ग्राम पोटगांव के गौठान में स्व-सहायता समूह की महिलाओं द्वारा गौमूत्र से ब्रम्हास्त्र का निर्माण सह विक्रय किया जा रहा है। इससे दोनो समूहों को तीन लाख 55 हजार रूपए से अधिक की आमदनी हुई है।

रायपुर

गौरतलब है कि छत्तीसगढ़ राज्य में गोधन न्याय योजना के अंतर्गत गौठानों में दो रूपए किलो की दर से गोबर तथा चार रूपए की दर से गौमूत्र की खरीदी की जा रही है। गौठानों में गोबर से वर्मी कम्पोस्ट तथा गौमूत्र से जैविक कीटनाशक ब्रम्हास्त्र एवं फसल वृद्धिवर्धक जीवामृत तैयार किया जा रहा है ताकि राज्य में जैविक खेती को बढ़ावा देने के साथ ही रासायनिक उर्वरकों और पेस्टीसाईड का उपयोग कम कर खेती को लाभदायक बनाया जा सके।

Share Now

Leave a Response